4 Year B.Ed Course: अब एनटीए लेगा चार साल का बीएड प्रवेश परीक्षा, इंटर में प्रवेश के लिए 50 फीसदी अंक होंगे पात्र, यहां पढ़ें पूरी जानकारी

0
65

4 Year B.Ed Course: बी.एड. के चार वर्षीय पाठ्यक्रम में नामांकन के लिए। (बिहार 4 वर्षीय बीएड कोर्स), अब प्रवेश परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) द्वारा आयोजित की जाएगी।

NCTE ने लिया यह फैसला:

नेशनल काउंसिल ऑफ टीचर एसोसिएशन (एनसीटीई) ने यह फैसला लिया है।

NCTE ने जारी किया नोटिफिकेशन:

बता दें कि साल 2023-24 में दाखिले के लिए नेशनल काउंसिल ऑफ टीचर एसोसिएशन (एनसीटीई) ने नोटिफिकेशन जारी किया है।

वहीं कहा गया है कि अगले साल यानी 2023 से पूरे देश में एकीकृत शिक्षक शिक्षा कार्यक्रम शुरू किया जाना है.यह 4 वर्षीय बी.एड. एनसीटीई ने भी कोर्स शुरू करने के लिए कॉलेजों से आवेदन मांगे हैं।

इस यूनिवर्सिटी में चलता है ये कोर्स:

अभी पूरे राज्य में 4 वर्षीय बी.एड. यह कोर्स बीआरए बिहार यूनिवर्सिटी के चार कॉलेजों यानी बीआरएबीयू और गया सेंट्रल यूनिवर्सिटी में चलता है।लेकिन, अगले वर्ष यानि 2023 से कई कॉलेजों में 4 Year B.Ed. Course की पढ़ाई शुरू होने की उम्मीद है।

इंटर के बाद ही इस कोर्स में मिलेगा प्रवेश:

आपको बता दें कि 4 वर्षीय बी.एड. कोर्स में एडमिशन इंटर यानी 12वीं के बाद ही होगा। वहीं एनसीटीई ने कोर्स चलाने के लिए 31 मई 2022 तक कॉलेजों से आवेदन मांगे हैं।

कला, विज्ञान और वाणिज्य सभी की होगी पढ़ाई :

आपको बता दें कि 4 वर्षीय बी.एड. कोर्स में दाखिले के लिए इंटर यानी 12वीं में 50 फीसदी अंक जरूरी हैं।

इससे कम वाले छात्र 4 साल के बी.एड. प्रवेश परीक्षा का फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं।

जबकि 4 वर्षीय बी.एड. पाठ्यक्रम का पाठ्यक्रम आठ सेमेस्टर का होगा और प्रत्येक सेमेस्टर में 125 दिन की कक्षाएं होंगी।

नई शिक्षा नीति 4 वर्ष बी.एड. पाठ्यक्रम प्रस्तावित किया गया था जिसे एनसीटीई द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है।

NCTE ने बताया:

एनसीटीई ने जानकारी दी है कि नए बी.एड. पाठ्यक्रम छात्रों को उनके विशिष्ट विषयों में अध्ययन करने की सुविधा प्रदान करेगा। वहीं छात्रों को Professional Knowledge and Subjects का ज्ञान दोनों देने की जरूरत है।बता दें की 4 Year B.Ed. Course में Arts, Science और Commerce सभी की पढ़ाई होगी। वहीं छात्रों को छह वर्ष में यह 4 Year B.Ed. Course पूरा करने की छूट मिलेगी।

उपस्थिति 80% होनी चाहिए:

आपको बता दें कि 4 वर्षीय बी.एड. कोर्स में छात्रों की उपस्थिति 80% होनी चाहिए और इंटर्नशिप करके उनकी उपस्थिति 90% तक होनी चाहिए।

जबकि 4 वर्षीय बी.एड. कोर्स में दाखिले में आरक्षण के नियम यानी आरक्षण के नियमों का पूरी तरह पालन किया जाएगा।

जबकि 4 वर्षीय बी.एड. प्रवेश परीक्षा ऑनलाइन होगी और इसमें से वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे।4 Year B.Ed. Entrance Exam के बाद NTA छात्रों का स्कोर बोर्ड तैयार करेगा। बताते चलें की इसके बाद सफल छात्रों की Online Counciling कराई जाएगी। वहीं Online Counciling के बाद छात्रों को कॉलेज आवंटित किए जाएंगे।

कॉलेजों को तैयार करना होगा कैलेंडर:

आपको बता दें कि इस 4 साल में बी.एड. प्रवेश परीक्षा आयोजित करने के लिए कॉलेजों को एक वार्षिक कैलेंडर तैयार करना होता है। इसमें उन्हें क्लासेज, एक्जाम और इंटर्नशिप की जानकारी देनी होगी। छात्रों की इंटर्नशिप 18 सप्ताह की होगी। वहीं वार्षिक कलैण्डर में छात्रों के लिए सेमिनार, वाद-विवाद प्रतियोगिता, समूह चर्चा के आयोजन का विवरण भी देना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here