Ration Card 2022 :न मिलेगा मुफ्त राशन, न किसानों को मिलेगा 2000 रुपये, जानें क्या है सरकार का नया प्लान

0
314

केंद्र सरकार किसानों को मुफ्त राशन और 2 हजार रुपये देने की योजना को बंद करने जा रही है. दरअसल यह खबर सभी के लिए नहीं बल्कि सिर्फ उनके लिए है जो पात्रता के दायरे से बाहर हो गए हैं।

इसके लिए केंद्र सरकार ने योजना तैयार की है और राज्य सरकार ने भी तैयारी कर ली है. गौरतलब है कि कोरोना महामारी के दौरान केंद्र सरकार ने लोगों को मुफ्त अनाज देने का ऐलान किया है. वर्तमान में सरकार सभी राशन कार्ड धारकों को 10 किलो अनाज मुफ्त दे रही है।

अब केवल उन्हीं परिवारों को यह खाद्यान्न मिलेगा जो वास्तव में इसके लिए पात्र हैं। जो लोग मुफ्त राशन योजना के लिए अपात्र हैं उन्हें राशन कार्ड सरेंडर करना होगा। ऐसा नहीं करने पर उन्हें जुर्माना भी भरना पड़ सकता है। अब अगर वे राशन लेते हैं तो उन्हें 27 रुपये प्रति किलो की दर से मुआवजा देना होगा. ऐसा नहीं करने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने वाले छोटे किसान भी आगे इस योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। इतना ही नहीं जिन परिवारों की सालाना आय 1.2 लाख रुपये है तो आपको जुर्माना भरना होगा।

कौन मुफ्त में राशन नहीं ले पाएगा

डीएसओ द्वारा जानकारी दी गई है कि जिनके पास 100 वर्ग मीटर से अधिक का प्लॉट है, फ्लैट या घर, चौपहिया वाहन, ट्रैक्टर या एससी, गांवों में दो लाख और शहर में तीन लाख, तो परिवार की आय तीन से अधिक है. लाख प्रतिवर्ष मौजूद है। तहसील और डीएसओ कार्यालय में अपना राशन कार्ड सरेंडर करना होगा।

सरकार ने जो आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को लेकर देखा जाए तो गरीब कल्याण योजना शुरु किया जा चुका है। लेकिन अब राशन कार्ड पर फ्री में मिलने वाले राशन को लेकर बड़ी जानकारी साझा की है।

क्योंकि मुफ्त में राशन कार्ड पर मिलने की बात करें तो गेहूं चार महीने तक नहीं मिलने जा रहा है । यानी जून से लेकर सितंबर माह तक राशन कार्ड पर लोग निश्‍शुल्‍क गेहूं नहीं दिया जाने वाला है।

इसका कारण भी जानना अहम समझा जा रहा है। इस बार क्रय केंद्रों पर गेहूं की खरीद धीमी होना शुरु हो चुकी है। ऐसे में रोटी का संकट खड़ा होना तय माना जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here